images 2020 05 04T035618.954Z Krishi Farming

Monsoon Update- अगले हफ्ते में तेज़ गर्मी के साथ बरसेंगे बादल

Monsoon Update- अगले हफ्ते में तेज़ गर्मी के साथ बरसेंगे बादल, बारिश से तापमान में आएगी हल्की गिरावट लेकिन सप्ताहांत में फिर बढ़ेगा तापमान:

 

बीते 5 दिनों से जारी गर्मी के दौर के बीच एक अब एक बार फिर हल्की प्री-मॉनसूनी बरसात का दौर देखा जाएगा। उत्तर भारत में कल से 2 जून के बीच भिन्न भिन्न जगहों पर अलग अलग तीव्रता व प्रसार के साथ बादल बनेगे और बरसेंगे।
_____________________________________________

★ मौसमी चक्र:
◆ एक कमजोर प०वी० इस समय लद्दाख व आसपास के इलाकों पर बना हुआ है। जो कल उत्तर भारत पर से चला जाएगा।
◆ 30 मई से एक नया मध्यम दर्जे का प०वी० उत्तर भारत को प्रभावित करना शुरू करेगा।
◆ प०वी० के कारण पश्चिमी राजस्थान पर चक्रवाती हवाओं का क्षेत्र बनेगा।
◆ बिहार पर मौजूद कम दबाव का क्षेत्र कल कमजोर होते हुए पूर्वांचल के इलाकों पर आ जाएगा।
◆ पूर्वांचल व बिहार पर मौजूद प्रणाली के कारण कल से पूर्वी हवाओ का जोर उत्तरप्रदेश से पूर्वी हरियाणा और पंजाब तक देखा जाएगा।
◆ प०वी० और पुर्वी हवाओ के मेल से 31, 1, 2 तारिख को एक सक्रीय द्रोणिका पश्चिमी उत्तर प्रदेश, मध्य हरियाणा और उत्तर राजस्थान पर बनेगी। जिससे इन इलाको में बरसात की गतिविधियो में बढ़ोतरी की उम्मीद है।
_____________________________________________

पहाड़ी राज्य:
जम्मू कश्मीर,, लद्दाख, हिमाचल प्रदेश और उत्तराखंड में 29, 30 और 31 को बिखरी हुई हल्की से मध्यम बरसात होगी। 1, 2 और 3 को बरसात बढ़ेगी, कई जगह भारी बारिश की भी संभावना है।
4 जून से बरसात की गतिविधियों में कमी आएगी। 4 जून से इन राज्यो में मोसम ज्यादातर साफ रहेगा। शिवालिक श्रेणी के इलाकों में तापमान बढेगा। लेकिन इन पहाड़ी इलाकों में दोपहर बाद कही-2 हल्की बारिश की संभावना उसके बाद भी बनी हुई है।
_____________________________________________

पंजाब:
29 मई:
कल पंजाब में मोसम ज्यादातर साफ और बेहद गर्म रहेगा। लेकिन फाजिल्का, भटिंडा या मुक्तसर में शाम को गरज़ के साथ बूंदाबांदी या हल्की फुल्की बरसात हो सकती है।

30 मई:
मौसम ज्यादातर साफ और बेहद गर्म बना रहेगा। दोपहर बाद से नवांशहर, लुधियाना, फतेहगढ़ साहिब, रूपनगर, पटियाला, संगरुर, मानसा और भटिंडा में गरज़ के साथ हल्की बारिश की संभावना है। शेष पंजाब में कहीं-2 हल्की बारिश या बूंदाबांदी हो सकती है।

31, 1 और 2 तारीख के बीच पंजाब में दोपहर तक मोसम ज्यादातर साफ और गर्म ही रहेगा। दोपहर बाद से रात के के बीच राज्य में तेज़ आँधियों और गरज़ के साथ बिखरी हुई हल्की से मध्यम बरसात की गतिविधियां देखी जाएगी। बरसात के आगामी दौर दक्षिण एक-आध जगह भारी बौछारे व हल्की ओलावृष्टि भी हो सकती है।

2 जून के बाद पंजाब में मोसम फिर से साफ हो जाएगा और तापमान में बढ़ोतरी शुरू होगी। लेकिन द०पु० इलाको में दोपहर बाद हल्की बारिश या बूंदाबांदी दर्ज की जा सकती है।
_____________________________________________

हरियाणा:
29 मई:
कल हरियाणा में मोसम ज्यादातर साफ और बेहद गर्म रहेगा। शाम के घण्टो में सिरसा, हिसार, भिवानी और महेंद्रगढ़ में कहीं-2 बूंदाबांदी की संभावना है। शेष राज्य में किसी प्रकार की नई मौसमी गतिविधियों के होने की उम्मीद नहीं है।

30 मई:
मोसम ज्यादातर साफ और बेहद गर्म रहेगा। दोपहर बाद या शाम के घण्टो में सिरसा, फतेहाबाद, हिसार, जींद, करनाल, पानीपत, सोनीपत, भिवानी, महेंद्रगढ़, रेवाड़ी व आसपास के इलाकों बादल बनना शुरू कर सकते हैं। जिसके कारण बिखरी हुई हल्की बारिश या बूंदाबांदी की गतिविधियां शुरू होगी। शेष हरियाणा में खास मौसमी बदलाव की उम्मीद कम है।

31, 1, 2 तारीख को हरियाणा में दोपहर तक मोसम ज्यादातर साफ और गर्म रहेगा। राज्य में दोपहर बाद से लेकर अलसुबह के बीच गरज़ और आँधी के साथ बिखरी हुई हल्की से मध्यम बरसात होगी। इन दौरान एक-दो जगह भारी बारिश के साथ हल्की ओलावृष्टि की भी संभावना है।

3 जून से हरियाणा में बरसात में कमी आएगी और मौसम ज्यादातर साफ और गर्म रहेगा।। लेकिन प० हरियाणा में कही-2 हल्की बारिश या बूंदाबांदी की उम्मीद दोपहर बाद के घण्टो में बनी हुई है।
_____________________________________________

राजस्थान:
29 व 30 मई:
राज्य में मौसम लगभग साफ और बहुत ज्यादा गर्म रहेगा। दोपहर बाद दक्षिण श्रीगंगानगर, दक्षिण हनुमानगढ़, पूर्वी बीकानेर, चूरू, सीकर, झुंझुनूं, अलवर, जयपुर, टोंक, सवाई माधोपुर, बूंदी, कोटा, बारां, झालावाड़, भीलवाड़ा, चितौड़गढ़, राजसमंद, उदयपुर, डूंगरपुर, प्रतापगढ़ और बांसवाड़ा जिले ने गरज़ के साथ बिखरी हल्की बारिश की संभावना है, एक-दो जगह तेज़ बरसात थोड़े समय के लिए भी दर्ज की जा सकती है। साथ ही उपरलिखित स्थानों के आसपास के इलाकों में बूंदाबांदी की उम्मीद है। शेष राजस्थान में बरसात की उम्मीद अगले 2 दिन नही है।

31, 1, 2 और 3 तारीख के बीच श्रीगंगानगर, हनुमानगढ़, बीकानेर, नागौर, चूरू, सीकर, झुंझुनूं, अलवर, भरतपुर, धौलपुर, दौसा, जयपुर, करौली और सवाई माधोपुर में आँधी और गरज़ के साथ बिखरी हुई हल्की से मध्यम बरसात की संभावना है। एक-दो जगह तेज़ बरसात के साथ ओलावृष्टि भी हो सकती है।

2 व 3 जून के बीच जैसलमेर, जोधपुर, बाड़मेर, अजमेर, पाली, राजसमंद, चितौड़गढ़, भीलवाड़ा, उदयपुर और कोटा जिले में दोपहर बाद गरज़ व आँधी के साथ कही-2 हल्की बारिश या बूंदाबांदी की संभावना है। शेष राजस्थान के जिलो में बरसात की संभावना नहीं है।

4 जून के बाद पूरे राजस्थान में तापमान बढ़ना शुरू कर देगा। और बरसात की गतिविधियां रुक जाएगी।
_____________________________________________

उत्तरप्रदेश:

● प०यूपी:
29 मई:
कल प०यूपी में मोसम बिल्कुल साफ और गर्म रहेगा।

30 मई:
प०यूपी के सहारनपुर, मुज़फ्फरनगर, शामली, बागपत, गाज़ियाबाद दोपहर बाद आँधी और गरज़ के साथ हल्की बारिश की गतिविधियां शुरू हो सकती है।

31, 1 और 2 जून को प०यूपी में आँधी और गरज़ के साथ बिखरी हुई हल्की से मध्यम बरसात की गतिविधियां देखी जाएगी। एक-दो जगह भारी बारिश भी हो सकती है।

3 जून के बाद प०यूपी में मोसम साफ और गर्म होने लगेगा।

● बुंदेलखंड:

29 से 31 मई के बीच बुंदेलखंड में मोसम ज्यादातर साफ और बेहद गर्म रहेगा।

1, 2 और 3 जून के बीच बुंदेलखंड के इलाकों में आँधी व गरज़ के साथ बिखरी हुई हल्की बरसात की संभावना है। एक-दो जगह तेज़ बौछारे भी गिर सकती है।

4 जून से बुंदेलखंड में मोसम साफ हो जाएगा। और गर्मी में बढ़ोतरी होनी शुरू हो जाएगी।

31, 1 और 2 जून के बीच

● पूर्वांचल:
29 और 30 मई:
पूर्वांचल के जिलो में फैली हुई हल्की से मध्यम बरसात होगी। कुछ जगह भारी बारिश भी संभव है।

31 मई:
पूर्वांचल में आंशिक बादलवाही के बीच मोसम ज्यादातर साफ सुथरा बना रहेगा।

1, 2 जून के बीच पूर्वांचल में आँधी और गरज़ के साथ बिखरी हुई हल्की से मध्यम बरसात होने की उम्मीद है। पूर्वांचल के तराई क्षेत्र में भारी बारिश भी हो सकती है।

3 जून के बाद पूर्वांचल में भी मोसम साफ ही रहेगा।
_____________________________________________
मध्य भारत:
गुजरात में मौसम फिलहाल एक हफ्ते तक साफ और गर्म रहेगा। सिर्फ तटीय इलाकों व दक्षिण गुजरात में कही-2 हल्की बारिश या बूंदाबांदी इस हफ्ते देखी जा सकती है।
_____________________________________________

बिहार व झारखंड में कल से 4 जून के बीच बरसात की गतिविधियां जारी रहेगी। हालांकि अगले 2 दिन बिहार में भारी बारिश और झारखंड में हल्की बारिश होती रहेगी।
_____________________________________________

पश्चिमी व मध्य मप्र में 29, 30, 31 के बीच बिखरी हुई हल्की से मध्यम बरसात होने की उम्मीद है। इस दौरान पुर्वी मप्र में मोसम ज्यादातर साफ रहेगा। दक्षिण व दक्षिणपुर्वी मप्र में 1 जून से बरसात की गतिविधियों में बढ़ोतरी होगी और शेष मप्र में 1 जून के बाद मोसम साफ हो जाएगा। पूरे मध्यप्रदेश में 5 जून के बाद बरसात देखी जा सकती है।
_____________________________________________

उत्तर छत्तीसगढ़ में 29, 30 व 31 को मोसम साफ रहेगा। 1 से 3 जून के बीच हल्की से मध्यम बरसात होगी। दक्षिण छत्तीसगढ़ में 29 व 30 मोसम ज्यादातर साफ रहेगा। 31 से 4 जून के बीच हल्की से मध्यम बरसात होगी। 5 जून से बरसात में बढ़ोतरी होनी शुरू होगी।
_____________________________________________

महाराष्ट्र में कल विदर्भ को छोड़कर सब जगह बिखरी हुई हल्की बरसात होगी। 30, 31 व 1 तारीख के बीच महाराष्ट्र में बरसात बढ़ेगी। कई जगह हल्की से मध्यम बरसात व कुछ एक जगह भारी बारिश होने का अनुमान है।
2 जून से बरसात की तीव्रता में इज़ाफ़ा होगा। 3 से 6 जून के बीच महाराष्ट्र में अनेको जगह मध्यम से भारी बारिश की प्रबल संभावना है।
_____________________________________________

#Monsoon :
मॉनसून में बीते हफ्ते हुए तीव्र बढ़ोतरी के बीच अब मॉनसून सुस्त हो चुका है। मॉनसून के 31 मई को केरल में दस्तक देने की संभावना है।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *